Shani dosh nivaran pooja

Shani dosh nivaran pooja

...

शनि शान्ति -

इस विषय में कोई संदेह नहीं की मनुष्य का जीवन पूर्ण तरह उसकी कुंडली पर आधारित है और कुंडली में ग्रहों की चाल ही उसके भविष्य को निर्धारित करती है

                                                                

उचित  स्थान -

यदि कुंडली में शनि ग्रह उचित घर में विराजित हो तोह वह भिकारी को भी करोड़पति बना सकता है

                                                                

विधि -

शनि देव मनुष्य को उसके कर्मों के आधार पर उसको न्याय देते हैंउनकी विधि निर्धारित है

                                                                

पापियों को दंड -

व्यभिचारियों को सजा देने प्रभु शनि देव के नाम से हर कोई भयभीत हो उठता है। पुराने किताबों और कहानियों में भी शनि देव को कर्म फल दाता ही कहा गया है

                                                                

कुंडली में शनि स्थापित -

पुराणों के अनुसार हर किसी के जीवन में शनि की साढ़े साती आती ही है और अगर शनि की सधे साती से पीड़ित व्यक्ति की कुंडली में स्वयं शनि ही प्रतिकूल स्थानपर बैठे है तो जातक के लिए गंभीर समस्या पैदा हो सकती है

      अगर आपकी कुंडली में शनि देव प्रतिकूल स्थान पर बैठे हैं तो भी बोहोत ज़्यादा घबराने की ज़रुरत नहीं है क्योंकि शनि देव को प्रसन्न करना थोड़ा मुश्किलज़रूर है परन्तु असंभव नहीं। कुछ ऐसे उपाय हैं जिन्हे अपनाकर आप शनि देव को प्रसन्न कर सकते हैं

प्रत्येक शनिवार सूर्यास्त होने के बाद जो भोजन बनाया जाएगा उसे केले के पत्ते में लपेटकर काली सरसों डालकर पीपल के पेड़ की पूजा करनी चाहिए।

भोजन के साथ पीपल के पेड़ की पूजा करने के बाद वह खाना की गाय को खिला देना चाहिए।

ताम्बे के बर्तन में सरसों का तेल डाल कर उसमें अपना चेहरा देखने के बाद वो तेल किसी निर्धन को दान कर दें 

अपने दाएं हाथ का मध्यमा ऊँगली का नाखून काटकर सरसों के तेल में दाल कर उसे किसी भिखारी को देदें या पीपल पर चढ़ा दें 

तेल में सिका हुआ पराँठा बना कर गाय के बछड़े को खिलाने से भी शनि देव को खुश किया जा सकता है इसके अलावा काली चींटियों को गुड़ खिलाना हनुमानचालीसा  का पाठ करनानिर्धनों की सहायता करना एवं अपने अधीनस्त सेवकों को खुश रखना शनि देव को खुश करने के अन्य उपाय हैं। शनिवार के दिन गरीबोंको कंबल चप्पल और कपडे दान करने चाहिए अधिक समस्या होने पर  शनिदेव का जाप करना चाहिए 

शनि शान्ति

यदि आपको किसी कारण शनि के फल प्राप्त नहीं हो रहे हैं फिर वह चाहे जन्म कुंडली में शनि की महादशा चलने की वजह से हो या शनि की साढ़े साती चलने कीवजह से हो तो शनि को खुश करने के लिए प्रयास अवश्य करना चाहिए।शनि की महादशा आने पर जीवन में कई उतार चढ़ाव आते हैंपरन्तु जीवन में थोड़े सेबदलाव एवं थोड़ा पूजा ध्यान शनि देव को खुश कर सकता है। शनि शान्ति हेतु उपाय जानने एवं पूजा करवाने हेतु आप संपर्क स्थापित कर सकते हैं.

Package fees 51000/-

Know Your Fortune Fee only Rs. 700/-